दबंगों की पिटाई से मजदूर की मौत, रिपोर्ट दर्ज करने के लिए दरोगा ने मांगा 50 हजार

0 16

सोनू दुबे/कासगंज। जनपद कासगंज से एक ऐसी खबर सामने आई है जिसने खाकी वर्दी पर से एक बार फिर से भरोसा उठा दिया है। दरअसल यहां पर कुछ दबंगों ने एक भट्टा मजदूर को इतना पीटा की उसकी मौत हो गई। घटना के बाद जब परिजनों ने थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाने की कोशिश की तो रिपोर्ट नहीं दर्ज की गई। बल्कि कार्यवाही के बदले पुलिस द्वारा ने 50 हजार रुपये मांगे गए।

यह घटना पटियाली कोतवाली क्षेत्र के नगला अमीर की है। यहां पर एक मजदूर ईट भट्टे से अपना हिसाब कर वापस आ रहा था। तभी कुछ दबंग मुंह पर गमछा बांधकर कर आए और मजदूर को पीटने लगे। दबंगों ने मजदूर को इतनी बेहरमी से पीटा कि उसकी मौके पर ही मौत हो गई। परिजनों द्वारा बताया गया कि पुरानी रंजिस के चलते चार दिन पहले भी दबंगों ने पिटाई की थी।

परिजनों का आरोप कि जब मामले की शिकायत के लिए दरियावगंज चौकी गए थे तो उस वक्त पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज नहीं की और न ही मेडिकल जांच करवाई। वहीं मृतक के भाई का आरोप है कि दरियावगंज चौकी पर तैनात दारोगा पीयूष ने कार्यवाही के बदले पचास हजार रुपये मांगे थे।

जब पुलिस द्वारा कार्रवाई नहीं की गई तो परिजनों और आक्रोशित गांव वालों ने शव को बदायूं मैनपुरी हाईवे पर रखकर रोड जाम कर दिया। परिजनों का कहना है कि जब तक आला अधिकारी इस मामले में संज्ञान नहीं लेते तब तक शव हाईवे पर ही रहेगा।

पुलिस की कार्यशैली को लेकर परिजनों व ग्रामीणों में जबरदस्त आक्रोश है। पूरे मामले में दारोगा पीयूष कुमार पर लापरवाही बरतने एवं मामले को पैसे लेकर रफा दफा करने का आरोप लगाया गया है। वहीं, अब परिजन रिश्वत मांगने वाले दरोगा पीयूष कुमार पर सख्त कार्रवाई करने की मांग कर रहे है।

Also Read: अमेठी: विवाहिता के साथ दो युवकों ने दुष्कर्म, पुलिस ने नहीं दर्ज किया गैंगरेप का मुकदमा

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...