दुश्मन के दांत खट्टे करने के लिए छह और राफेल लड़ाकू विमान 27 जुलाई तक पहुंचेंगे भारत

0 6

नई दिल्ली। दुश्मनों के दांत खट्टे करने के लिए भारत के रक्षा हथियारों में छह और मारक हथियार शामिल होने वाले है  जो 27 जुलाई तक भारतीय सेना के खेमे में शामिल हो जाएंगे। दरअसल फ्रांस से छह राफेल विमान 27 जुलाई तक भारत पहुंचने की संभावना है। यह विमान पहले मई में ही आने वाले थे लेकिन कोरोना वायरस के चलते आने में विलंब हुआ।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पता चला है कि पहले चार राफेल विमान आने वाले थे, लेकिन अब छह विमान भारत पहुंचेंगे। वहीं, फ्रांस से उड़ान भरने के बाद ये विमान भारत के अंबाला शहर स्थित एयर फोर्स स्टेशन पर लौंड करेंगे।

इससे पहले, जून की शुरुआत में केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अपनी फ्रांसीसी समकक्ष फ्लोरेंस पारले से टेलीफोन पर वार्ता की थी। इस दौरान फ्रांस की रक्षा मंत्री ने आश्वासन दिया था कि कोरोना वायरस महामारी के बावजूद राफेल विमान तय समय के अनुसार भारत पहुंचाए जाएंगे। रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों ने यह जानकारी दी थी।

रक्षा मंत्रालय ने कहा था कि दोनों मंत्रियों ने क्षेत्रीय सुरक्षा परिदृश्य सहित आपसी चिंता के मामलों पर चर्चा की और द्विपक्षीय रक्षा सहयोग को मजबूत करने पर सहमति व्यक्त की। हालांकि, यह पता नहीं चल सका था कि क्या इस वार्ता के दौरान लद्दाख में भारत और चीन के बीच तनाव पर चर्चा हुई या नहीं।

बता दें कि भारत सरकार ने भारतीय वायुसेना की आपातकालीन आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए 36 लड़ाकू राफेल विमान के लिए सितंबर 2016 में फ्रांस के साथ 60,000 करोड़ रुपये से अधिक के समझौते पर हस्ताक्षर किए थे। भारत को अपना पहला राफेल विमान फ्रांस के एक एयरबेस पर आठ अक्तूबर को प्राप्त हुआ था।

Also Read: महाराष्ट्र के हालात चिंताजनक, सरकार ने 31 जुलाई तक बढ़ाया लॉकडाउन

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...