भारत में कोरोना मामले 9 लाख के पार, हर दो दिन में सामने आ रहे 50 हजार केस

0 4

नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं और वह दिन दूर नहीं, जब भारत कोरोना वायरस के मामलों को लेकर दुनिया में दूसरे नंबर पर आ जाएगा। दरअसल सोमवार को भारत में कोरोना संक्रमण के आंकड़े 9 लाख के पार हो गए हैं। सबसे हैरानी की बात ये है कि मरीजों की संख्या 8 से 9 लाख पहुंचने में महज तीन दिन का ही समय लगा।

हालांकि इस बीच एक राहत भरी खबर भी सामने आई है। दरअसल देश में कोरोना संक्रमितों के ठीक होने का आंकड़ा भी 5 लाख के पार हो गया है। भारत में अभी तक 5 लाख 60 हजार मरीज ठीक हो चुके हैं। इसके अलावा अभी 3.5 लाख लोगों का अस्पताल में इलाज चल रहा है। जबकि कुल 23174 लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि मौजूदा समय में कोरोना से ठीक होने वालों की रफ्तार काफी तेजी से बढ़ रही है। हालांकि भारत में जिस रफ्तार से कोरोना संक्रमण के आंकड़े बढ़े हैं, उस लिहाज से अब अमेरिका के बाद भारत दूसरा ऐसा देश हो गया है, जहां हर दिन सबसे ज्यादा संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं।

अमेरिका में जहां औसतन 40 हजार मामले बढ़ रहे हैं, तो भारत में औसतन 25 हजार नए मामले सामने आ रहे हैं। हालांकि भारत के लिए राहत भरी खबर ये है कि हर 10 लाख की आबादी में संक्रमितों के बढ़ने की रफ्तार के मामले में भारत में अन्य बड़े देशों के मुकाबले सबसे कम केस बढ़े हैं। यहां हर 10 लाख लोगों में 637 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आ रही है। जबकि अमेरिका में इतनी ही आबादी में 10312 और ब्राजील में 8778 केस बढ़ रहे हैं।

इन 3 राज्यों में देश के 58 प्रतिशत मरीज

देश में अभी तक कोरोना वायरस के जितने भी मामले सामने आए हैं, उनमें से सबसे ज्यादा यानी 58 फीसदी से ज्यादा मामले केवल महाराष्ट्र, तमिलनाडु और दिल्ली में सामने आए हैं। यहां पर देश में कोरोना के कुल 58.73 फीसदी मामले सामने आ चुके हैं। महाराष्ट्र में जहां 29.93 फीसदी मामले हैं, तो वहीं तमिलनाडु में 15.86 फीसदी और दिल्ली में 12.94 फीसदी मामले सामने आए हैं। यही नहीं आपको यह जानकर हैरानी होगी, कि देश में केवल 13 देश ही ऐसे हैं, जहां महाराष्ट्र से ज्यादा लोग कोरोना संक्रमित हैं।

अभी तक 1.18 करोड़ लोगों का टेस्ट

आपको बता दें कि भारत में अभी तक एक करोड़ से ज्यादा लोंगों का कोरोना टेस्ट हो चुका है। यह आंकड़ा 1.18 करोड़ है। अच्छी बात ये है कि इतने ज्यादा टेस्ट के बावजूद टेस्ट का केवल 7.4 फीसदी लोग ही कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। यही नहीं भारत में दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी आबादी वाला देश होने के नाते कोरोना संक्रमण का स्तर अन्य के मुकाबले काफी कम है।

ये आंकड़ें हैं डराने वाले

भारत में जिस रफ्तार से कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं, वह काफी हैरान करने वाले हैं। दरअसल देश में पहला कोरोना संक्रमण केस 30 जनवरी को मिला था, जिसके 110 दिन बाद यह संख्या बढ़कर 1 लाख हुई थी। जबकि 10 मई से महज 15 दिनों में यह संख्या 2 लाख के पार हो गई। इसके बाद 2 से 3 लाख होने में केवल 10 दिन लगे और 3 से 4 लाख होने में 8 दिन का समय लगा। जबकि 4 से 5 लाख मामले होने में 6 दिन लगे। 5 से 6 लाख और 6 से 7 लाख होने में केवल 5-5 दिन ही लगे। इसके बाद हर चार दिन में एक-एक लाख आंकड़े बढ़ रहे हैं। इसका मतलब ये है कि भारत में अब हर दो दिन में कोरोना के 50 हजार मामले बढ़ रहे हैं।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...